खामोशी का अर्थ पराजय नहीं होता

100.00

अश्विनी कुमार पंकज का काव्य संग्रह

Out of stock

Compare
SKU: pkf-hindi-09-01 Categories: ,

Description

खामोशी का अर्थ पराजय नहीं होता
(Khamoshi ka Arth Parajay Nahi Hota)
कवि: अश्विनी कुमार पंकज

अश्विनी कुमार पंकज की कविता का भूगोल बड़ा है। आदिवासी अंचलों से लेकर रियो डी जेनेरो तक। यह संकलन पराजय नहीं, विजय के साथ है और इसी कारण दृढ़ संकल्प कई कविताओं में है। आशा, उम्मीद, उत्साह, गति, भविष्योन्मुखी चेतना से जुड़ी है इस संग्रह की सभी कविताएं।

The geography of Ashwini Kumar Pankaj’s poem is very large. From Indian Adivasi regions to Rio de Janeiro. This compilation is accompanied by victory, not defeat, and for this reason determination is in many poems. All the poems in this collection are related to hope, hope, enthusiasm, speed, future-oriented consciousness.

प्रकाशक: प्यारा केरकेट्टा फाउंडेशन, रांची (झारखंड)
प्रकाशन वर्ष: 2009 | पृष्ठ: 136 | मूल्य: ₹100
ISBN : 978-93-81056-01-1

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “खामोशी का अर्थ पराजय नहीं होता”

Your email address will not be published.